कोरोना / देशभक्ति / सुविचार / प्रेम / प्रेरक / माँ / स्त्री / जीवन

इश्क़ तो इश्क़ है सब को इश्क़ हुआ है (शेर) Editior's Choice

इश्क़ तो इश्क़ है सब को इश्क़ हुआ है,
इस क़दर कुछ न हुआ जो इश्क़ हुआ है।


अमित राज श्रीवास्तव 'अर्श'
सृजन तिथि : 23 सितम्बर, 2021
अरकान : फ़ाइलुन फ़ेल फ़ऊलुन फ़ेल फ़ऊलुन
तक़ती : 212 21 122 21 122
            

रचनाएँ खोजें

रचनाएँ खोजने के लिए नीचे दी गई बॉक्स में हिन्दी में लिखें और "खोजें" बटन पर क्लिक करें