कोरोना / देशभक्ति / सुविचार / प्रेम / प्रेरक / माँ / स्त्री / जीवन

गोकुल कोठारी

गोकुलानंद कोठारी

गोलदा

3 अप्रैल, 1971

बारे में


गोकुल कोठारी का जन्म 3 अप्रैल, 1971 को उत्तराखंड के सीमांत ज़िला पिथौरागढ़ स्थित सुरम्य गाँव जाड़ा पानी में एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ। उनके पिता स्व॰ श्री शिरोमणी कोठारी (तब जब उत्तराखंड उत्तर प्रदेश राज्य में था) खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड में अकाउंटेंट के पद पर कार्यरत थे। पंडित श्री शिरोमणी कोठारी संस्कृत व अंग्रेजी के प्रकांड विद्वान थे। जिनका प्रभाव गोकुल कोठारी की कविताओं में देखा जा सकता है।

माता श्रीमती माधवी देवी गृहणी हैं। गोकुल कोठारी दो भाईयों व चार बहनों में पाँचवें हैं। गोकुल कोठारी की पत्नी का नाम अन्नू कोठारी है।
गोकुल कोठारी ने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा राईआगर व अल्मोड़ा इंटर कॉलेज अल्मोड़ा से प्राप्त की, इसी कॉलेज से मशहूर कवि सुमित्रानंदन पंत जी भी शिक्षा प्राप्त किए। गोकुल कोठारी ने अपनी आगे की शिक्षा राजकीय पालीटेक्निक नैनीताल से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा के साथ वर्ष 1991 में पूर्ण की। सम्प्रति में वह स्पार्क इंजीनियरिंग प्रा॰लि॰ में कार्यरत हैं। सन् 2014 में राष्ट्र कवि श्री रामधारी सिंह दिनकर जी की रश्मीरथी से प्रेरित होकर कविता लेखन शुरू किया जो अब तक जारी है।


गीत (3)



कविता (9)



            

रचनाएँ खोजें

रचनाएँ खोजने के लिए नीचे दी गई बॉक्स में हिन्दी में लिखें और "खोजें" बटन पर क्लिक करें